ATM full form in hindi | एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?

ATM क्या है? 

एटीएम कार्ड है लंदन में 1967 में स्थापित हुआ था ज्यादातर लोग इसे एटीएम कार्ड के माध्यम से पहचानते हैं. पर इसका पूरा नाम Automated Teller Machine है यह मिशन होता है आपके पास एक प्लास्टिक का कार्ड होता है उसे ही एटीएम कार्ड कहते हैं आपको एटीएम कार्ड मदद से बहुत ही ज्यादा फायदा होता है जो कि आपको घर बैठे आप पैसे की लेने और देन कर सकते हो ऑनलाइन काम हो सकता है सभी और आपको आपके पास एटीएम कार्ड है तो आपको बैंक में जाने की जरूरत नहीं होती है आपके घर के पास अगर कोई एक एटीएम कार्ड की मिशन है तो वहां पर भी जाकर आप सिर्फ 1 मिनट में पैसे निकाल सकते हो तो आप समझ चुके होंगे एटीएम कार्ड क्या होता है ? 

एटीएम का फुल फॉर्म हिंदी में (Full form ATM ) 

ATM full form in hindi

देश में सभी लोग एटीएम कार्ड के नाम से पहचानते हैं और बोलते हैं पर कई लोगों को यह नहीं मालूम है कि एटीएम कार्ड का पूरा नाम क्या है मतलब की एटीएम का फुल फॉर्म क्या है एटीएम कार्ड एक प्लास्टिक कार्ड होता है उसी से आप सभी बैंक के काम कर सकते हो ऑनलाइन एटीएम कार्ड को  Luther George Simjian  इस नाम के एक अमेरिकन व्यक्ति ने यह एटीएम कार्ड बनाया था तो चलिए जानते हैं कि एटीएम कार्ड का पूरा नाम क्या है मतलब कि इस का फुल फॉर्म क्या है. 

ए – स्वचालित

टी – टेलर

म – मशीन 

ATM के प्रकार 

क्या आपको एटीएम कार्ड के प्रकार मालूम है नहीं तो चलिए जानते हैं कि एटीएम कार्ड के प्रकार क्या-क्या है उनके बारे में सभी जानकारी. 

1. Online ATM 

इस एटीएम कार्ड का बैंक के डेटाबेस पूरे 24 घंटे जुड़ा रहता है एटीएम कार्ड से ऑफिस एटीएम कार्ड के खाते से जितने भी पैसे हैं वह अधिक नहीं निकाल सकते हैं. 

2. Offline ATM 

ऑफलाइन यहां एटीएम कार्ड बैंक के डाटा बैक से जुदा नहीं होता है यहां पर आपकी जो बैंक में पैसे होते हैं उससे ज्यादा भी आप पैसे निकाल सकते हैं पर आप को बैंक कुछ ज्यादा पैसे का लाभ लगा सकते हैं. 

आपको अच्छी तरीके से समझ आया होगा कि एटीएम कार्ड मैं ऑनलाइन एटीएम कार्ड और ऑफलाइन एटीएम कार्ड में क्या फर्क होता है और उसके बारे में और जानकारी आपको पता चली होगी.

3. On-Site ATM 

आपके शहर में जो एटीएम कार्ड होते हैं और वह बैंक के परिसर में होते हैं उनको ही ऑनसाइट एटीएम कहा जाता है. 

4. Off Site ATM 

अगर आपके परिसर में एटीएम कार्ड है और वह बैंक के परिसर में नहीं आते हैं बैंक और एटीएम कार्ड से दूर है तो उसे ऑफसाइट एटीएम कार्ड कहा जाता है. 

आपको पूरी तरीके से समझ आया होगा कि ऑनसाइट एटीएम कार्ड और ऑफ साइट एटीएम कार्ड मैं फर्क क्या है और वह किन किन परिसर में आता है. 

whatsapp dp full form in hindi

 

ATM कैसे काम करता है? 

आपने कभी ना कभी एटीएम कार्ड के मिशन से पैसे निकाल होगा आपने तो यहां पर क्या होता है आप जिस प्रकार एटीएम मिशन में जाते हो और आपको जितने भी पैसे निकालने हैं उस प्रकार से अमाउंट लिखते हो मतलब कि हमें 2 हजारों पे निकालना है ₹2000 अमाउंट एटीएम में डालने के बाद फिर उस एटीएम के मिशन को अंदर से मशीन में  stripe होता है फिर आपने जो अमाउंट निकाला है वह ऑटोमेटिक आपके मिशन के बाहर पैसे छाप कर भेजता है यही एटीएम कार्ड मिशन का काम होता है और आप जब एटीएम कार्ड का प्लास्टिक काट डालते हो तब वहां पर कुछ एटीएम कार्ड में सेंसर होते हैं वह उसी प्रकार ही आपके बैंक खाते में कनेक्ट होकर आपने जितने में अमाउंट डाला है उसी तरह कारवां आपको पैसे निकल कर देता है यही एटीएम कार्ड का काम होता है | 

ATM के लाभ 

1. सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि यहां पर आपको बैंक में जाकर लाइन लगाने की कोई जरूरत नहीं होती है आपके परिसर में कोई एटीएम कार्ड की मशीन हो या आसपास तो वहां पर भी जाकर आप अपने एटीएम कार्ड के मदद से पैसे निकाल सकते हो यही सबसे बड़ा फायदा है एटीएम कार्ड का जो कि लोगों को पसंद आता है. 

2. इसके साथ आपको आपके जेब में पैसे लेकर होने की कोई जरूरत नहीं होती है अगर आप कोई बाहर गांव जाते हो आप के पास एटीएम कार्ड हो तो आप वहां पर भी जाकर पैसे निकाल सकते हो किसी भी एटीएम कार्ड में और आपके पैसे चुराने जाने की कोई जरूरत और दिक्कत भी नहीं होती है आपको जब लगे तब पैसे निकाल सकते हो. 

3. एटीएम कार्ड से आप ऑनलाइन काम कर सकते हो मतलब कि आप किसी के भी पैसे हो तो उसको 1 मिनट में उसके खाते में पैसे डाल सकते हो अपने एटीएम कार्ड के मदरसे पर आपको कोई ऐप लेना पड़ता है जो कि फोन pay गूगल pay इस ऐप में अपने अकाउंट बनाना है फिर आप किसी भी बैंक में पैसे भेज सकते हो और उनको बोल सकते हो आपके पास एटीएम कार्ड है तो वह भी आपके खाते में पैसे भेज सकते हैं यह सबसे अच्छा फायदा है जो कि ऑनलाइन यह काम होता है सब बैंक में जाने की कोई जरूरत नहीं होती है. 

ATM कौन इस्तेमाल कर सकता है? 

एटीएम कार्ड एक कार्ड होता है जो कि वह आपको बैंक देती है आपके पैसे लेने देने के लिए ऑनलाइन इसका काम होता है नहीं तो कुछ लोग बैंक में लाइन ना खड़े होकर डायरेक्ट प्लीज पैसे निकाल सके इसीलिए भी ब्लॉक एटीएम कार्ड लेते हैं बैंक से तू चले जाते हैं कि एटीएम कार्ड कौन इस्तेमाल कर सकता है. 

सीधी भाषा में बताया जाए तो एटीएम कार्ड सभी लोग इस्तेमाल कर सकते हैं जिनका कोई ना कोई एक बैंक में अकाउंट हो और वह बैंक अकाउंट एक्टिव रहना चाहिए तभी आपको वह एटीएम कार्ड देते हैं एटीएम कार्ड आपको निकालना है तो आपको बैंक में जाकर अप्लाई करना पड़ता है एटीएम कार्ड के लिए आपको अपनी सभी जानकारी उस पर भरना पड़ता है तो आपको कुछ दिन में ही एटीएम कार्ड मिल जाता है इसी का मतलब यह है कि एटीएम कार्ड कोई भी संभाल कर सकता है सिर्फ उसका बैंक में अकाउंट होना जरूरी है | 

pubg ka full form in hindi

 

भारत में एटीएम कब आया? 

हमने आपको पहले भी बताया आपने पढ़ा होगा कि सबसे पहले एटीएम कार्ड का जन्मा लंदन में हुआ था उसे लंदन में स्थापित किया था उसी के साथ भारत में वह सबसे पहले 1987 मैं लाया था जो कि हमारे भारत के लोग इसे इस्तेमाल कर सके और उसे मुंबई के एक (एचएसबीसी) से लाया था. यह भी एक सबसे बड़ी बैंक है उन्होंने भारत में इस को लांच किया था जो कि हमारे भारत के लोग इसके इस्तेमाल कर सके ऑनलाइन पैसे लेने देने के लिए और वह हमारे लिए अभी भी एक अच्छा तरीका है ऑनलाइन पैसे लेने देने का. 

घर बैठे एटीएम कैसे बनाएं? 

आपको भी अपना एक एटीएम कार्ड बनवाना है तो सबसे पहले तो आपको आपने गूगल में जाकर सर्च करना है जो भी आपका बैंक में अकाउंट है उसी बैंक का नाम सर्च करना है उस बैंक का नाम सर्च करते हैं जो सबसे पहले ऊपर वेबसाइट आती है गूगल में उस पर आपको जाकर. 

कुछ आपको वेबसाइट ओपन होने के बाद मेनू देखेंगे सबसे ऊपर साइड बार में उस पर क्लिक करना है और आपको उसमें ने बताया होगा एटीएम कार्ड का ऑप्शन होगा सभी बैंक अकाउंट में वेबसाइट में होता है उसी प्रकार आपके अकाउंट बैंक में भी होगा तो एटीएम कार्ड पर क्लिक करना है उसके बाद अप्लाई एटीएम कार्ड पर क्लिक करना है आपको कुछ हुआ जानकारी पूछेंगे उसको आपको भरते ही सबमिट बटन पर क्लिक करना है सबमिट बटन पर क्लिक करने के बाद कुछ ही दिन में आपके जो आपने घर का पता दिया था फॉर्म भरते वक्त उस पते पर आपका एटीएम कार्ड आएगा फिर उसको आपको जाकर अपने बैंक में चालू करना है जाकर फिर आप भी ऑनलाइन पैसे लेना देना कर सकते हो अपने एटीएम कार्ड के मदद से और वह आपने घर बैठे एटीएम कार्ड बनाया था. 

एटीएम कार्ड कितने दिनों में आता है? 

जब भी आप एटीएम कार्ड बनवाने के लिए अप्लाई करते हो तो सबसे पहले आपको आप जिस जगह पर रहते हो उसी प्रकार ही अच्छे तरीके से अपना एड्रेस भरना है उस from पर जो कि वह सही हो और आप जिस जगह पर रहते हो वही देना है क्योंकि जब आपको एटीएम कार्ड आता है तब उनको दिक्कत ना आए देने के लिए कई लोगों के एटीएम कार्ड इसी वजह से नहीं पूछते हैं उनके घर क्योंकि उन्होंने सही तरीके से एड्रेस नहीं देते हैं और आप जब एटीएम कार्ड अप्लाई करते हो तब कुछ ही दिन में आपके घर पर एटीएम कार्ड पहुंच जाता है मेरे अंदाज से मैंने जब अप्लाई किया था तब मुझे 20 25 दिन लगे थे आने के लिए कई बार तो ऐसा भी होता है आपको एटीएम कार्ड केवल 7 दिन नहीं मिलता है यह भी होता है पर आप जब एटीएम कार्ड अप्लाई करते हो तब आपको कि 1 महीने के अंदर एटीएम कार्ड मिलता है आपको | 

Conclusion: 

इस आर्टिकल में आपको पूरी तरीके से एटीएम कार्ड के बारे में जानकारी दिया गया था आशा है कि हमें आपको यह सभी जानकारी पसंद आए होंगे और आपको फायदेमंद होंगे एटीएम के बारे में क्योंकि हमें एटीएम के बारे में सभी जानकारी दिया है हमने आपको एटीएम कार्ड क्या होता है उनके कितने प्रकार होता है वह किस प्रकार काम करता है जो कि आप उससे पैसे निकालते हुए मिशन उसके भी बारे में बताया गया है और एटीएम कार्ड को कौन उनको इस्तेमाल करता है उसी के साथ हमने यह भी बताया आपको कि आपको एटीएम कार्ड के क्या-क्या फायदे और आप एक एटीएम कार्ड  प्रकार घर बैठे किस बना सकते हो और एटीएम कार्ड बनवाने के बाद वह कितने दिन में घर पर आता है यह सभी जानकारी हमने इस आर्टिकल में दिया था इसी प्रकार के हम हमारे ब्लॉग पर आर्टिकल डालते हैं और ही कई सारे डाला है वह भी आप जाकर पढ़ सकते हो

Hello दोस्तों मेरा नाम Rohit Bhoite है मैं इस ब्लॉग का Writer और Founder हूँ और इस वेबसाइट के माध्यम से Blogging, Seo, Full Form, And Internet Marketing के बारे में जानकारी Share करता हूँ। ��

Leave a Comment